सच के साथ

Satellite News Channel

Friday, September 30, 2022
RAFTAAR MEDIA BREAKING NEWS

वरिष्ठ साहित्यकार श्रीराम तिवारी को किया गया सम्मानित

Must read

पटना। जनवादी लेखक संघ बिहार के द्वारा वरिष्ठ साहित्यकार एवं जलेस पटना के अध्यक्ष श्रीराम तिवारी का सम्मान समारोह बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ, जमाल रोड, पटना के सभागार में आयोजित किया गया। इसकी अध्यक्षता संगठन के राज्याध्यक्ष डा. नीरज सिंह ने की जबकि कुमार विनीताभ ने संचालन किया। कार्यक्रम के प्रारंभ में श्रीराम तिवारी को माला, सम्मान पत्र, स्मृति चिह्न, अंगवस्त्र इत्यादि से सम्मानित किया गया। इसके बाद जलेस बिहार के अध्यक्ष डॉ. नीरज सिंह ने तिवारी की साहित्यिक संघर्ष यात्रा से संबद्ध परिचय-वाचन किया। उन्होंने बताया कि 1960 के दशक से ही तिवारी साहित्य के प्रति समर्पित रहे हैं। ‘वाम’ पत्रिका के संपादक डा. चन्द्र भूषण तिवारी, यशस्वी कथाकार मधुकर सिंह और श्रीराम तिवारी की साहित्यिक त्रयी आरा-भोजपुर में सुख्यात रही है। युवा काल में इन्होंने हस्तलिखित पत्रिका निकाल कर महत्वपूर्ण योगदान दिया था। इनका काव्य-संग्रह ‘रीढ़’ हिन्दी कविता की वास्तव में वैचारिकी रीढ़ है। तिवारी बिहार की जनवादी-प्रगतिशील काव्यधारा के सशक्त और समादरणीय साहित्यकार के रूप में मान्य हैं। बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ के महासचिव व पूर्व सांसद शत्रुध्न प्रसाद सिंह ने तिवारी के साथ अपने रागात्मक संबंध की विशद विवेचना करते हुए कहा कि तिवारी कुशल प्रशासक,संवेदनशील साहित्यकार और वैचारिक रूप से जनपक्षीय व्यक्तित्व के धनी हैं। अध्यक्ष व विधान पार्षद केदार पांडेय ने तिवारी को मुक्तिबोध की परम्परा का साहित्यकार बताया। सुप्रसिद्ध जनगीतकार नचिकेता, जलेस बिहार के कोषाध्यक्ष व मगही-हिन्दी के लब्धप्रतिष्ठ साहित्यकार घमंडी राम, जनवादी विचारक सर्वोदय शर्मा, सीटू के राज्य उपाध्यक्ष अरुण कुमार मिश्र, जलेस बिहार कार्यकारिणी सदस्य युगल किशोर दुबे, बालरूप शर्मा, चर्चित संस्कृतिकर्मी अनीश अंकुर, जनवादी बुद्धिजीवी इंजीनियर सुनील सिंह, युवा आलोचक संजीव श्रीवास्तव, जलेस पटना के उपाध्यक्ष कुलभूषण, संयुक्त सचिव अनिल कुमार ‘सुमन’, जिला कार्यकारिणी सदस्य रजनी श्रीवास्तव, गौरी गुप्ता, आयुष राज, कैप्टन कुमार निरंजन सिंह, समेत अन्य वक्ताओं  ने श्रीराम तिवारी के साहित्यिक अवदानों के सम्मान में अपने-अपने भावोद्गार व्यक्त किये। श्रीराम तिवारी ने अपने सम्मान के लिए जनवादी लेखक संघ बिहार के प्रति आभार व्यक्त करते हुए रचनाकारों से जनता के पक्ष में निरंतर सृजन करने की अपील की। जलेस बिहार के उपाध्यक्ष और ‘प्राच्य प्रभा’ के संपादक विजय कुमार सिंह ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

 इस मौके पर जनवादी सांस्कृतिक मोर्चा के राज्याध्यक्ष अशोक कुमार मिश्र, उपेन्द्र नाथ यादव, मुख्तार सिंह, ज्योति भूषण श्रीवास्तव, रजनीश कुमार ‘गौरव’, संतोष अनुराग, रूपक कुमार, विकास कुमार, अर्जुन कुमार ठाकुर, अर्जुन प्रसाद सिंह, देवीकांत राय, चन्द्र भूषण प्रसाद, पृथ्वीराज पासवान, प्रत्यूष किरण, प्रेम कुमार सोनू कुमार, राजेश कुमार, अनवर समेत कई साहित्यकार एवं साहित्य प्रेमी मौजूद थे।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article