सच के साथ

Satellite News Channel

Wednesday, September 28, 2022
RAFTAAR MEDIA BREAKING NEWS

सत्ता और संपत्ति स्थायी नही, तप युगों तक चलता है: स्वामी रामदेव

Must read

  • स्वामी रामदेव ने योग को दुनिया में पुर्नस्थापित किया: बागेश्वर महाराज

संतोष सेन, छतरपुर। छतरपुर। छतरपुर जिले के प्रख्यात तीर्थ क्षेत्र बागेश्वर धाम पर अक्षय तृतीया का दिन हमेशा के लिए यादगार बन गया। सनातन संस्कृति के इस पवित्र दिवस पर भारत के दो बड़े संतों का मिलन बागेश्वर धाम की पवित्र भूमि पर हुआ। संतों ने श्रद्धालुओं से संवाद करते हुए भारत की ऋषि परंपरा, सनातन संस्कृति, योग और वर्तमान परिस्थितियों पर चर्चा की। इस अवसर पर बागेश्वर धाम पवित्र क्षेत्र में हजारों  लोग उपस्थित रहे। आयोजन के मुख्य वक्ता देश के प्रख्यात योग गुरु स्वामी रामदेव रहे। उन्होंने बागेश्वर धाम पर बालाजी भगवान की कृपा से किए जा रहे सामाजिक, धार्मिक कार्यों की जमकर सराहना की। उन्होंने कहा कि यह धरती पूज्य सन्यासी बाबा और पं. धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री के दादा गुरु की तपोभूमि है। आज उनका तप और बालाजी की असीम कृपा इस क्षेत्र के लाखों लोगों के कष्ट निवारण का माध्यम बन रहा है। उन्होंने कहा कि जीवन में तप का यही महत्व होता है। सत्ता और संपत्ति हमारे जीवन में स्थायी नहीं होते। ये आते और जाते रहते हैं लेकिन तप कई युगों तक चलता है।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article