मधेपुरा जिले में संतान होने का सपना दिखाकर यौन शोषण करने वाला ये ढोंगी बाबा का हुआ, पर्दाफाश। जहां महिलाओं को बंद कमरे में संतान प्राप्ति के तरीके बताता था ये बाबा। रातभर पति बाहर करते थे पत्नियों का इंतजार।

0
142

मधेपुरा जिला अंतर्गत आलमनगर थाना क्षेत्र के भागीपुर में संतान प्राप्ति का झांसा देकर यौन शोषण करने वाला बाबा को पुलिस ने किया गिरफ्तार । जहां भागीपुर में ये ढोंगी बाबा कैलाश पासवान उर्फ चिल्का बाबा ने महिलाओं को संतान प्राप्ति के लिए झाड़-फूंक की बात कहकर अपने कुटिया में बुलाता था। उसके बाद नशीला दवा खिलाकर हवस का शिकार बनाता था। बाबा ने कई महिलाओं को अपने जाल में फंसा रखा था। कई महिलाएं लोक-लाज के भय से शांत रहती थीं। जहां पांच मई को पूर्णिया निवासी दंपती ने कैलाश पर दुष्कर्म का आरोप लगाते हुए आलमनगर थाने में केस दर्ज कराया था। जहां पुलिस ने जांच की तो आरोप सही पाया गया।
वहीं, केस दर्ज होने के बाद से ही बाबा फरार था। जहां बाबा के कुटिया से कई आपत्तिजनक सामान बरामद हुए थे। कई महिलाओं के फोटो भी मिले थे। फोटो के पीछे समस्या निदान करने की बात लिखी थी।
वहीं इस बाबत एसपी राजेश कुमार ने बताया कि कैलाश पासवान लोगों के विश्वास का फायदा उठाता था। महिलाओं को संतान प्राप्ति का झांसा देकर गलत काम किया करता था। कैलाश पासवान का पूर्व में अपराध से भी नाता रहा है। वह जेल भी जा चुका है। संतान प्राप्ति के नाम पर महिलाओं को अपने पास बुलाकर पति-पत्नी को सबसे पहले नशीला पदार्थ से मिला हुआ प्रसाद खिलता था। उसके बाद महिला को अपनी हवस का शिकार बनाता था। ऐसी घटना वह कई महिलाओं के साथ कर चुका था। किसी ने इस बात की शिकायत पुलिस से नहीं की थी। पूर्णिया की एक महिला के साथ गलत कार्य होता देख उसके पति ने पांच मई को आलमनगर थाना में ढोंगी बाबा कैलाश पासवान के खिलाफ केस दर्ज कराया था। उसने ढोंगी बाबा पर संतान प्राप्ति का झांसा देकर पिछले नौ माह से पत्नी के साथ दुष्कर्म करने का आरोप लगाया था।
वहीं पीडि़त महिला व उसके पति ने थाना में आवेदन देकर कहा था कि शादी के 12 साल बीत जाने के बाद भी संतान नहीं होने से वे लोग परेशान थे। कई उपाय किए लेकिन फायदा नहीं हुआ। इसी दौरान गांव की ही एक महिला ने उसे भागीपुर में चिल्का नाथ के नाम से प्रसिद्ध स्थान पर चिल्का बाबा उर्फ कैलाश पासवान से उपचार कराने की सलाह दी। बताया कि तंत्र-मंत्र से उन्हें संतान की प्राप्ति होगी।
पूर्णिया निवासी दंपती नौ माह तक लगातार भागीपुर आता रहा। यहां रात्रि में झाड़-फूंक के नाम पर चिल्का बाबा महिला के पति को कुटिया के बाहर सोने को भेज देता था। उसके बाद ढोंगी बाबा झाड़-फूंक के बहाने घर का दरवाजा बंद कर लेता था। रात को नशीली दवा खिलाकर महिला से दुष्कर्म करता था। जहां बाबा एक फूल देकर उसे खाने कहता था, जिसमें नशीली दवा मिली रहती थी। पीडि़त महिला ने बताया कि बच्चे की चाहत व बाबा के भय की वजह वह अपने स्वजन को भी कुछ नहीं बता रही थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here