6203592707 info@raftaarmedia.com Advertise About Us Career Contact Us

'सरकारी आवास में ऑफिस चलाना गलत' शिवपाल यादव के मंत्री वाला बंगला छोड़ने को लेकर बोले केपी मौर्य

रफ़्तार मीडिया 


Shivapal Yadav News: प्रसपा के मुखिया शिवपाल यादव कुछ देर में अपने मंत्री आवास से रवाना होंगे. शिवपाल यादव को विधायक आवास मुहैया कराया जाएगा. उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने भी उसी समय शिवपाल यादव के घर को लेकर भाषण दिया. उन्होंने दावा किया कि एक विधायक के लिए सरकारी भवन के बाहर कारोबार करना अनुचित है. गलत होने पर इस पर विचार किया जाएगा. डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य शिवपाल यादव को चुनावी चाचा कहते रहे हैं. उन्होंने यह कहकर शिवपाल यादव का मजाक उड़ाया कि न तो घोड़ा दूर है और न ही मैदान.


केशव प्रसाद मौर्य ने कहा, "मैं चुनाव चाचा को सूचित करना चाहता हूं कि मैनपुरी लोकसभा हार रहे हैं." अगर उन्हें भी जसवंत नगर विधानसभा पर गर्व है तो उन्हें चुनाव परिणाम के बाद रिटायर हो जाना चाहिए और वहां भी दौड़ने की कोशिश करनी चाहिए. वे भाजपा को अपनी सापेक्ष ताकत से अवगत होंगे. आम जनता उसका समर्थन करती है या नहीं? बता दें कि अखिलेश यादव के शामिल होने के बाद शिवपाल यादव की जेड श्रेणी की सुरक्षा कम कर दी गई थी. शिवपाल यादव को अब वाई कैटेगरी की सुरक्षा मिली है. साथ ही सपा सरकार में गोमती रिवरफ्रंट घोटाले की फाइल शुरू हो चुकी है. शिवपाल यादव पहले भी दावा कर चुके हैं कि ईडी की पूछताछ राजनीति में प्रतिशोध से प्रेरित थी.


केशव प्रसाद मौर्य के अनुसार
उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने पहले ही घोषणा कर दी थी कि मैनपुरी के निवासी इसी तरह अखिलेश यादव के भ्रम को तोड़ देंगे. जब मुलायम सिंह ने 2014 और 2019 में लोकसभा की अध्यक्षता की, तो भाजपा के किसी भी महत्वपूर्ण नेता ने अभियान में भाग नहीं लिया. इसके अलावा बसपा से गठबंधन के बावजूद भी वे किसी खास अंतर से नहीं जीते थे. मैनपुरी के गरीब लोग जानते हैं कि सपा उनकी बर्बादी का कारण बनेगी जबकि भाजपा उनके लिए दौलत लाएगी. एक लोकप्रिय नेता रघुराज शाक्य हैं. सपा का इतिहास मैनपुरी के निवासी जानते हैं. गुंडागर्दी को सपा के झंडे से दर्शाया जाता है. उनका जमीन, घर और बूथों पर कब्जा करने का इतिहास रहा है. यह तय है कि वह चुनाव हार जाएंगे.
 

Recent Posts

0 Comments

Leave a comment 💬

India

Sports